• NRI Herald

गणतंत्र पर्व

भारत की आजादी की 75वी वर्षगांठ के उपलक्ष पर डॉ प्रभात सिन्हा जी द्वारा रचित , NRI Herald ऑस्ट्रेलिया द्वारा प्रकाशित, 25 अगस्त 2021

बसते वसुधा पर देश कई |

जिनकी सुषमा सविशेष नई ||

पर किसमे है गुरुता इतनी |

भरपूर भरी इसमें जितनी ||


ये सम्पूर्ण सशक्त भारत है - ये जगत गुरु जाग्रत है ||

पंद्रह अगस्त भारत का गौरव और अभिमान है |

ये पुण्य महोत्सव ही हमारे देश की शान है ||

ये हमारी स्वतंत्रता और अखंडता की पहचान है |

ये पर्व है जिसमे चिन्हा अमर शहीदों का बलिदान है ||


अनेकता में एकता ही सबसे बड़ा वरदान है |

इसलिए तो बहुभाषी ये मेरा भारतवर्ष महान है ||

लाल किले से लाल चौक तक |

हर डगर से हर नगर तक ||

फहराओ प्यार तिरंगा शान से |

फहराओ प्यार तिरंगा दिलों जान से ||


अब अधिकार की बात न सोचो, तोलो कर्तव्यों के भार को |

देश है सर्वप्रथम, उड़ो, चल पड़ो दुश्मन पर अंतिम प्रहार को ||


हे मात्रभूमि सदा तेरी जय होती रहे |

हे मात्रभूमि सदा तेरी विजय होती रहे ||

भारत के मंगलमय भविष्य के लिए कर्मठ हो जाना होगा |

देशभक्ति की परंपरा को सम्पूर्ण धर्म बनाना होगा ||

व्यक्तिवाद को छोड़ राष्ट्रहित को पूर्णतया अपनाना होगा |

आतंकवाद और देशद्रोह को जड़ से आज मिटाना होगा ||


हमारी आजादी की कभी शाम ना होने पाए |

अमर शहीदों की कुर्बानी कभी बदनाम ना होने पाए ||

सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास ही हमारा मंत्र हो |

जय जवान, जय किसान, जय विज्ञान ही हमारा तंत्र हो ||


जय हिन्द - वंदे मातरम |

 
Dr Prabhat Sinha

डॉ प्रभात सिन्हा का जन्म ग्वालियर,भारत के हिन्दी भाषी परिवार मे हुआ | उन्होंने ग्वालियर मेडिकल कॉलेज से एम बी बी एस और एम डी किया | डॉ प्रभात पिछले 40 वर्षों से सिडनी मे रह रहे है और सामाजिक कार्यों के साथ साथ सिडनी के हिन्दी परिषद और यू आई ए के अध्यक्ष के रूप मे हिन्दी भाषा का प्रचार प्रसार करते रहे हैं | डॉ प्रभात सिन्हा ऑबर्न, सिडनी में स्थित ऑस्ट्रेलिया के सबसे पुराने "श्री मंदिर" के संस्थापक भी हैं लंबे समय से मंदिर के रख रखाव के लिए फन्डिंग का इंतजाम भी कर रहे हैं | डॉ साहब यूनाइटेड इंडियन एसोसिएशन के अध्यक्ष के रूप मे कार्यरत हैं और हमेशा प्रवासी भारतीयों की मदद के लिए तत्पर रहते हैं |

30 views

Recent Posts

See All